जानिए क्या है सफेद दाग या विटिलिगो, ऐसे कर सकते हैं बचाव

जानिए क्या है सफेद दाग या विटिलिगो, ऐसे कर सकते हैं बचाव…..

 

कई लोगों के शरीर में सफेद धब्बे दिखाई देते हैं। इन धब्बों को सफेद दाग या विटिलिगो कहते हैं। त्वचा में रंग बनने वाली कोशिकाएं खत्म होने के कारण यह सफेद दाग होते हैं। ये कोशिकाएं मेलेनोसाइट्स कहलाती हैं। ये सफेद दाग शरीर के विभिन्न स्थानों पर हो सकते हैं। यही वहीं मुंह और नाक के अंदर के ऊतक और आंखों तक इसका असर हो सकता है। इसमें त्वचा का रंग सफेद हो जाता है। ये वंशानुगत भी होती है। ये कोई बीमारी नहीं है, केवल विकार है और इसका सेहत पर कोई अन्य बुरा प्रभाव नहीं पड़ता है, लेकिन मनोवैज्ञानिक रूप से इसके दुष्परिणाम हो सकते हैं। यह भावनात्मक रूप से परेशान करने वाली हो सकती है।

अभी तक डॉक्टर भी सटीक कारण नहीं बता पाए हैं, लेकिन आमतौर पर इन्हें कुछ वजहों से जोड़ा जाता है। यह एक ऐसा विकार है जिसमें इम्यून सिस्टम खुद रंग उत्पादन करने वाली कोशिकाओं को नष्ट कर देती है। थायराइड रोग या टाइप 1 डायबिटीज के प्रभाव के कारण होने वाली ऑटोइम्यून डिसीज के तौर पर इसे देखा जा सकता है। डॉक्टरों ने अन्य कारणों में सनबर्न, तनाव याइंडस्ट्रीयल केमिकल्स के संपर्क में आने को भी बताया है।

मुख्य लक्षण :

एम्स के डॉ. उमर अफरोज का कहना है कि इसके मुख्य लक्षण में त्वचा का रंग कुछ-कुछ जगहों पर फीका या सफेद पड़ जाना है। समय से पहले सिर के बाल, भौहें, पलकें, दाढ़ी के बालों का रंग उड़ जाता है या सफेद हो जाती है। रेटिना की अंदरूनी परत का रंग फीका पड़ जाता है। ज्यादातर मामलों में सफेद दाग बढ़ते रहते हैं और आखिर में पूरे शरीर में फैल जाते हैं। शरीर के सिर्फ एक हिस्से में या किसी एक भाग में सफेद दाग होने को सेगमेंटल विटिलिगो कहते हैं और यह कम उम्र में ही हो जाता है।

शरीर के एक हिस्से या सिर्फ कुछ ही हिस्सों में होने को स्थानीयकृत विटिलिगो कहते हैं। शरीर के कई हिस्सों में हुए सफेद दाग को सामान्यकृत विटिलिगो कहा जाता है। इसमें शरीर के किसी भी हिस्से से यह अन्य हिस्सों में फैलने लगता है। कई तरह से इस त्वचा के विकार से बचने की कोशिश कर सकते हैं। बेहतर होगा कि त्वचा को सूर्य की किरणों और अन्य यूवी लाइड्स से बचाएं। सन स्क्रीन पर्याप्त मात्रा में लगाएं। अगर सफेद दाग शरीर पर ज्यादा दिखने लगें तो डॉक्टर से संपर्क करना जरूरी है।

घरेलू उपाय :

विटिलिगो के शुरुआती लक्षणों को ठीक करने के लिए कुछ घरेलू उपाय अपना सकते हैं।

सफेद दाग हटाने के लिए लाल मिट्टी का मास्क, हल्दी और नारियल के तेल का इस्तेमाल हो सकता है।

घरेलू नुस्खों में तुलसी, नीम की पत्तियों का इस्तेमाल करें।

मूली के बीज भी फायदेमंद हो सकते है। मूली के बीज त्वचा की अशुद्धियों को साफ करते हैं और इसमें विटामिन बी, विटामिन सी, जिंक और फास्फोरस होता है जो सफेद दाग से छुटकारा दिलाने में मदद करते हैं। सफेद दाग को रोकने के लिए अखरोट और अंजीर, एलोवेरा और अदरक का प्रयोग कर सकते हैं।

दोस्तों अगर आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे जनहित के लिए अपने फेसबुक पर शेयर जरुर करे .

हेल्थ संबंधी और जानकारी के लिए हमारे youtube chanel को लाइक subscribe और शेयर जरुर करे धन्वाद https://www.youtube.com/channel/UCv_gR_mNhfP-guJ530slv1w

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *